भारत बायोटेक ने दिल्ली को और कोवैक्सीन देने से मना कर दिया है, हमें केन्द्र सरकार से हस्तक्षेप की उम्मीद- आतिशी

 

नई दिल्ली, 12 मई, 2021

बुधवार को वैक्सीन बुलेटिन जारी करते हुए विधायक आतिशी ने बताया कि भारत बायोटेक ने दिल्ली को और कोवैक्सीन देने से मना कर दिया है। हम उम्मीद कर रहे हैं कि केंद्र सरकार इसमें हस्तक्षेप करेगी और जल्द से जल्द कोवैक्सीन की डोज उपलब्ध करवाएगी। हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए कोवैक्सीन का 4 दिन और कोवीशील्ड का 3 दिन का स्टॉक बचा हुआ है। दिल्ली सरकार हर दिन 3 लाख लोगों को वैक्सीन लगाने की कोशिश कर रही है और इस क्षमता तक पहुंच रही है, लेकिन वैक्सीन का स्टॉक कम होने से दिक्कत आ रही है।

 आतिशी ने कहा कि इस समय दिल्ली का हर निवासी कोविड-19 से परेशान और चिंतित है। सभी चाहते हैं कि उनको जल्द से जल्द वैक्सीन लग जाए और दिल्ली में वैक्सीन की क्या उपलब्धता है। दिल्ली को 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों, फ्रंटलाइन वर्कर और हेल्थ वर्कर के लिए 43,20,490 वैक्सीन की डोज मिली है। जिसमें से अभी तक 40,00,970 वैक्सीन लगाई जा चुकी है। दिल्ली के पास आज सुबह तक 3,19,520 वैक्सीन की डोज उपलब्ध थीं।

उन्होंने कहा कि 18 से 44 वर्ष तक की उम्र के लोगों के लिए कोवैक्सीन की डेढ़ लाख डोज मिली हैं। कोवीशील्ड की 6 लाख 67 हजार 690 डोज मिली हैं। दिल्ली सरकार को कल शाम को कोवीशील्ड की 2,67,690 डोज मिली हैं। अभी तक दिल्ली को 18 से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए कुल 8 लाख 17 हजार वैक्सीन मिली हैं। जिसमें से 3.82 लाख वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं और 4.35 लाख उपलब्ध हैं।

विधायक ने बताया कि दिल्ली में 11 मई को 1,28,800 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। जिसमें से 83,829 लोगों को पहली डोज लगाई गई है और 44,971 लोगों को दूसरी डोज लगाई गई है। दिल्ली में अभी तक 41,64, 612 वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं।

दिल्ली सरकार की कोशिश रही है कि वैक्सीनेशन सेंटर बढ़ाए जाएं ताकि हर दिन 3 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा सके। दिल्ली सरकार इस क्षमता तक पहुंच रही है, लेकिन वैक्सीन का स्टॉक कम होने से दिक्कत आ रही है। कोवैक्सीन का स्टॉक कल लगभग खत्म था। ऐसे में जिन केंद्रों पर कोवैक्सीन लगायी जा रही थी ऐसे 100 केंद्र अस्थायी तौर पर बंद हो चुके हैं। विधायक आतिशी ने कहा कि 18 से 44 वर्ष तक के काफी युवाओं को पहली डोज कोवैक्सीन की लगी है। अब कुछ ही दिनों में उनको दूसरी डोज लगने का समय भी आ जाएगा। ऐसे में हम उम्मीद करते हैं कि दूसरी डोज लगने के समय से पहले केंद्र सरकार भारत बायोटेक के माध्यम से हमें कोवैक्सीन की डोज दिलवाएगी। 

उन्होंने कहा कि हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को लिए अभी 4 दिन का कोवैक्सीन का स्टॉक और 3 दिन का कोवीशील्ड का स्टॉक बचा हुआ है। जबकि 18 से 44 वर्ष तक के लोगों के लिए कोवैक्सीन का स्टॉक आज खत्म हो गया है। दिल्ली के किसी भी सेंटर पर कल से कोवैक्सीन नहीं लगेगी और अस्थाई तौर पर सभी कोवैक्सीन के केंद्र बंद कर दिए जाएंगे। कोवीशील्ड का अभी 9 दिन का स्टॉक उपलब्ध है। जिन-जिन केंद्रों पर 18 से 45 वर्ष तक की उम्र के लिए कोवीशील्ड की वैक्सीन लग रही थी, वह आने वाले 9 दिनों तक लगती रहेगी। आशा है कि केंद्र सरकार कोवैक्सीन और कोवीशील्ड दोनों की वैक्सीन उपलब्ध करवाएगी।

Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता