समाज के अंतिम व्यक्ति को मिल रहा विकास योजनाओं का फायदा- मुख्यमंत्री, झारखंड।

 चिन्मय दत्ता, झारखंड


झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने आज साहिबगंज जिले के बरहेट प्रखंड स्थित अमर शहीद सिदो कान्हू की जन्मस्थली भोगनाडीह में आयोजित आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत सभी पंचायतों में शिविर लगाकर सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। लोगों की समस्याओं का समाधान हो रहा है और उन्हें विकास योजनाओं से जोड़ा जा रहा है।

 उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का व्यापक असर देखने को मिल रहा है। पहले जहां तक सरकार की नजरें नहीं पहुंच पाती थी, उन सुदूरवर्ती गांव में भी समाज के अंतिम व्यक्ति को  कल्याणकारी योजनाओं का फायदा मिल रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य का हर व्यक्ति स्वावलंबी और सशक्त हो, इसी संकल्प के साथ सरकार की कई योजनाएं चल रही है। हमें इस बात की खुशी है कि सरकार की योजनाओं से जुड़कर लोग उसका फायदा ले रहे हैं। इसके लिये बड़े पैमाने पर नियुक्ति की प्रक्रिया जारी है। वहीं स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना जैसी योजनाएं शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से युवा उद्यमियों को सब्सिडी पर 25 लाख रुपए तक उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि वे खुद के साथ दूसरों को भी रोजगार दे सके।


इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि सखी मंडलों द्वारा निर्मित उत्पादों को बाजार मिले, इसके लिए पलाश ब्रांड को व्यवसायिक मॉडल बनाया जा रहा है। इसके तहत सरकार के अधीनस्थ विभागों में सखी मंडलों के उत्पादों को खरीदने का निर्देश दे दिया गया है। उन्होंने ग्रामीणों से मत्स्य, मुर्गी, गौ और सुकर पालन जैसे परंपरागत कार्यों से जुड़े रहने को कहा। सरकार हर संभव सहयोग करेगी। इस मौके पर उन्होंने फूलो झानो आशीर्वाद योजना, सार्वभौमिक पेंशन योजना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना और मुख्यमंत्री सुकन्या योजना समेत अन्य योजनाओं और उसके फायदे से लोगों को अवगत कराया।

 मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 1296 योजनाओं का उद्घाटन- शिलान्यास किया। इनमें 1289 योजनाओं का शिलान्यास और 7 योजनाओं का उद्घाटन शामिल है। इसमें शिलान्यास की जाने वाली कुल योजनाओं में 1262 योजनाएं जल जीवन मिशन से जुड़ी हैं। इसके अलावा  विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभुकों के बीच परिसंपत्ति का वितरण करने के साथ नव चयनित कर्मियों को मुख्यमंत्री ने नियुक्ति पत्र प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने गुमानी नदी के किनारे बनने वाले फूलो झानो स्मृति वन का शिलान्यास किया। यहां फूलो झानो की प्रतिमा लगाई जाएगी। वहीं इस स्थल को पर्यटक स्थल के रूप में भी विकसित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने वीर शहीद  सिदो, कान्हू, चांद, भैरव और फूलो-झानो से संबंधित आर्ट गैलरी का उद्घाटन किया।

 

Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता