आपने बांसपहार की भूमि को उपजाऊ बनाया, यह देखने में भी बहुत अच्छा लगता है- सचिव

 सुकांति साहू, रांची।


 बांसपहार में आयोजित कृषि संवाद कार्यक्रम में भाग लेते हुए कृषि पशुपालन एवं सहकारिता विभाग के सचिव, अबु बक्कर सिद्दीख पी. ने ग्रामीणों से कहा कि आपको सिचांई सुविधा मिली, आपने बांसपहार की भूमि को उपजाऊ बनाया, यह देखने में भी बहुत अच्छा लगता है। जहां एक बार खेती होती थी, आज सालो भर कृषि के कार्यों को बढ़ावा मिल रहा है। किसान आगे फूल की खेती एवं अन्य संभावनाओं को तलाशते हुए कृषि कार्य करेंगे।

उन्होने कहा कि हर इंसान को आगे बढ़ना है तो मेहनत करनी पड़ती है। बांसपहार में जो सुविधा बहाल की गई है, उसका आप लोग मेहनत कर लाभ ले रहे हैं, परन्तु इस मेहनत को आगे भी बरकरार रखें। मिट्टी और पौधा अपने बाल-बच्चा जैसा होता है। इसे कभी छोड़ना नहीं चाहिए। अपने बाल बच्चे की तरह खेती की देख- रेख नजदीक से करनी पड़ती है, तभी अच्छा किसान बन पाते हैं।

 उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत एक हेक्टेयर भूमि पर स्प्रिंकलर या ड्रीप एरिगेशन की योजना दी जाती है। जिन्हे सिंचाई हेतु स्प्रिंकलर व ड्रीप एरिगेशन की आवश्यकता हो, वह आवेदन दें। उन्हें 90 प्रतिशत अनुदान पर सिंचाई योजना का लाभ मिलेगा। पानी के महत्व के बारे में बताते हुए एक-एक बूंद पानी का उपयोग करने पर बल दिया।


उन्होंने कहा कि इस वर्ष सरकार  द्वारा सोलर आधारित लिफ्ट एरिगेशन को प्रमोट किया जा रहा है। बांसपहार प्रगति कर रहा है। इस दौरान उन्होने किसानों की आय दोगुनी करने के गुर से भी अवगत कराया। बाजार एवं सीजन देख कर कृषि कार्य करने की बात कही। इससे किसानों को दोगुना मुनाफा मिलेगा। साथ ही विभाग के पदाधिकारी भी इस कार्य में मदद करेंगे।

उन्होने कहा कि लैम्पस के माध्यम से कृषि कार्य के उपकरणों का बैंक अधिष्ठापित होगा। ट्रैक्टर, पावर ट्रिलर, कॉनोविडर सहित खेती में प्रयोग आने वाली मशीन उपकरण बैंक में आ सकती है। 80 प्रतिशत अनुदान पर योजना का लाभ मिलेगा। इसके लिये भूमि सरंक्षण विभाग यह सुविधा देगा। सरकार के द्वारा आपको सहयोग दिया जा रहा है,ताकि आपको देखकर बाकी लोग भी अच्छा करें। उन्होने ग्रामीणों को विभाग से सम्पर्क में रहने की बात कहते हुए कहा कि मछली पालन, बत्तख, मुर्गी, बकरी, सुकर पालन की योजना है। जो व्यक्ति जिस कार्य में माहिर है, वह उसका लाभ लें। मार्केट लिकेंज में कोई समस्या न हो, आपको सही समय पर सही दाम मिले, इस दिशा में प्रयास रहेगा। एमएसपी के बारे मे जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा धान अधिप्राप्ति योजना के तहत् उचित मूल्य पर लैम्पस के माध्यम से धान का क्रय किया जा रहा है, आपकी मेहनत का सही फल आपको मिलेगा।

 

Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।