झारखंड को उड़ीसा से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग का हाल बेहाल ।

 

चिन्मय दत्ता,


  झिंकपानी, झारखंड : झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के झिंकपानी प्रखंड अंतर्गत तालाबुरु गांव के रेलवे फाटक के समीप दुर्गापुर से लोड कर नोआमुंडी जा रही ट्रक बुरी तरह से दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस दुर्घटना में राहत की बात यह रही कि किसी जान-माल का नुकसान नहीं हुआ।

यह एक अकेली घटना नहीं है, बल्कि इस सड़क पर ऐसी दुर्घटनाएं अक्सर घटती रहती है। लोग अपनी जान हथेली पर रखकर आवागमन करते हैं। यह राष्ट्रीय राजमार्ग एन एच 75 इ चाईबासा से हाटगम्हरिया दो प्रखंडों को ही नहीं बल्कि दो राज्यों, झारखंड को उड़ीसा से जोड़ती है।

  पश्चिमी सिंहभूम के युवा कांग्रेस के जिला महासचिव पूर्ण चन्द्र कायम ने इस सड़क के बारे में कहा कि इस राष्ट्रीय राजमार्ग का कई किलोमीटर तक फैला यह भाग पूरी तरह से जर्जर है। यहां की सांसद गीता कोड़ा इस राजमार्ग की बात लोकसभा सत्र में रख चुकी हैं, परंतु इसका अभी तक कोई निराकरण नहीं हो सका है। पूर्ण चन्द्र ने आगे बताया कि केंद्र सरकार कहती है, हम गांव से शहर को जोड़ने के मार्ग को बेहतर बनाएंगे, लेकिन वर्तमान परिदृश्य में राज्य से राज्य को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग का हाल बेहाल है। यह सड़क काफी व्यस्त है, ऐसा प्रतीत होता है कि गांव को शहर से नहीं बल्कि इंसान को अपनी जान से जोड़ दे यही बहुत बड़ी बात है, थोड़ी सी भी चूक जान-माल को खतरे में डाल सकती हैं।



Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता