पश्चिमी सिंहभूम सांसद गीता कोड़ा ने महिलाओं से पंचायत स्तर पर संगठन मजबूत करने का आह्वान किया।

 चिन्मय दत्ता,


पश्चिमी सिंहभूम सांसद गीता कोड़ा ने विभिन्न विभागों के अपने प्रतिनियुक्त प्रतिनिधियों को निर्देश देते हुए कहा कि समस्याएं विकराल है और संसाधन सीमित, इसे देखते हुए खासकर पेयजल, स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली, सड़क और कृषि क्षेत्र पर विशेष रूप से कार्य करना है और अधिक से अधिक लोगों की समस्या समाधान कर उन्हें राहत पहुंचाना है। इस संबंध में  सभी प्रतिनिधि प्रस्तावित अगस्त माह में होने वाले बैठक में अपने कार्यों से उन्हें अवगत कराएंगे।

सांसद प्रतिनिधियों में प्रमुख रूप से अनीता सुम्बरई, श्रीमती नीला नाग, डॉक्टर नंदलाल गोप ,घनश्याम गागराई, राजकुमार रजक , त्रिशानू राय लखन बिरुवा ,अभिजीत चटर्जी ,प्रदीप विश्वकर्मा, जितेंद्र नाथ ओझा, शंकर विरुली, विकास वर्मा  और राकेश सिंह उपस्थित थे। दरअसल गीता कोड़ा ने महिला कांग्रेस एवं यूथ कांग्रेस के साथ कांग्रेस भवन मे सिलसिलेवार बैठक की, जिसमें महिलाओं से पंचायत स्तर पर संगठन मजबूत करने पर बल देने के साथ ही आसन पंचायत चुनाव को लेकर भी उन्हें कांग्रेस पार्टी के बैनर तले जुड़ने का आह्वान किया।

 ज्ञातव्य हो कि 50% आरक्षण महिलाओं को पंचायत चुनाव में सुनिश्चित है, महिला कांग्रेस की बैठक को महिला कांग्रेस अध्यक्ष नीला नाग ने भी संबोधित किया। 13 जून मंगलवार को हुई बैठक में जमुना टोप्पो को चक्रधरपुर का महिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोनीत किया गया उन्हीं के नेतृत्व में कई महिलाओं ने कांग्रेस का दामन थामा जिसमें प्रमुख रुप से जमुना टोप्पो , हर्षवती देवी, कल्याणी कोन्डेयांग, अनीता महतो, जींगी गिलुवा प्रमुख हैं।

दीनबंधु बोयपाई की नेतृत्व में युवा कांग्रेस की बैठक भी सांसद के साथ की गई जिसमें विभिन्न युवा कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष मौजूद थेगीता कोड़ा ने युवाओं को संबोधित करते हुए हैं कहा कि किसी भी संगठन के युवा रीड होते हैं युवाओं के बीच कांग्रेस पार्टी के नीतियों का प्रचार प्रसार कर उन्हें संगठन से जोड़ने पर बल दिया, उक्त बैठक में प्रमुख रूप से पूर्ण चंद्र कायम ,संदीप सनी देवगम, गोविंद पाट पिंगुआ, मुंगालाल सरदार, नारंगा देवगम, आकाश कंडेयांग प्रीतम बांकीरा, चुमरु हेम्ब्रम, करण सिंह हेम्ब्रम, धीरज गागराई, अविनाश मुंडारी अभिषेक गोप  उपस्थित थे।

Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।