दो दिनों के अंदर रिहा हो पप्पू यादव अन्यथा अनशन:रंजीत रंजन।

 उषा पाठक, वरिष्ठ पत्रकार। 


पटना,13 मई 2021(एजेंसी)। पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को दो दिनों के अंदर रिहा किया जाय अन्यथा अनशन किया जायेगा। इसके साथ ही जाप की ओर से कोरोना पीड़ितों की मदद जारी रहेगी। 

यह घोषणा यादव की पत्नी एवं कांग्रेस की पूर्व सांसद रंजीत रंजन ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। वह कुछ ही देर पहले नयी दिल्ली से पटना पहुँची थी। 

पूर्व सांसद रंजीत रंजन ने बिहार सरकार को दो दिनों का अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि अगर पप्पू यादव को रिहा नहीं किया गया तो वह अनशन करेंगी। 

उन्होंने आरोप लगाया कि पप्पू यादव को परेशान किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों की धज्जियां उड़ाते हुए उनकी गिरफ्तारी की गई है। कानूनी तरीके से मधेपुरा में उन्हें मजिस्टे्ट द्वारा ही बेल दे देनी चाहिए थी। 

 
रंजीत रंजन ने कहा कि जब तक पप्पू यादव जेल में हैं, अस्पतालों का निरीक्षण होता रहेगा। जिन माफिया से मिलकर इंजेक्शन, दवाओं, बेड की कालाबाजारी हो रही है, उसको बेनकाब करते रहेंगे। 

उन्होंने कहा कि पप्पू यादव के लीवर में 30 फीसदी इंफेक्शन है। उनके गोल ब्लाडर का ऑपरेशन हुआ है। डॉक्टर ने कहा है, उनके साथ रिस्क है। जेल से पॉजिटिव होकर अगर आए तो दोषियों को मांफ नहीं किया जायेगा। 

उल्लेखनीय है, कि पूर्व सांसद पप्पू यादव को पटना स्थित मंदिरी आवास से गत मंगलवार सुबह कोरोना गाइडलाइन तोड़ने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। देर शाम मधेपुरा पुलिस ने 32 साल पुराने अपहरण के एक मामले में अपनी हिरासत में ले लिया और रात में ही पटना से मधेपुरा ले आई। मधेपुरा कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में वीरपुर जेल भेज दिया था।

 

 

 

 

Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।