जमशेदपुर बस एसोसिएशन ने की टाटा- सरायकेला मार्ग पर अवैध रूप से चल रही छोटी वाहनों के कागजात जांच करने की मांग ।

 सुकांति साहू,

जमशेदपुर बस एसोसिएशन ने टाटा से सरायकेला मार्ग पर चलने वाली छोटे वाहनों के कागजातों की जांच करने की मांग करते हुए कहा है कि इस रास्ते पर लगभग 200 छोटी गाड़ियां चल रही हैं, जिनके वाहन का फिटनेस परमिट, इंश्योरेंस टैक्स, एवं चालक के ड्राइविंग लाइसेंस की जांच करना सरकार के हित में जरूरी है। ऐसा करने से सरकार के राजस्व में भी बढ़ोतरी होगी।

जमशेदपुर बस एसोसिएशन संचालक मल्लू सिंह के अनुसार इन सभी छोटे वाहनों के चलने से परमिटधारी बसों के साथ प्रायः समयसारिणी को लेकर नोंक झोंक हो रही है, जिससे कभी भी अप्रिय घटना घट सकती है।

इसे लेकर बस एसोसिएशन द्वारा जमशेदपुर के जिला परिवहन पदाधिकारी, सरायकेला खरसांवा जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला मोटरयान निरिक्षक जमशेदपुर व उप आरक्षी अधीक्षक यातायात जमशेदपुर को लिखित पत्र देकर टाटा- सरायकेला मार्ग पर चलने वाली सभी वाहनों की जांच का अनुरोध किया गया है।

Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता