महाशिवरात्रि के दिन रामगढ़ के प्राचीन मंदिर में लगी भक्तों की कतार, श्रद्धालुओं की सेवा में मौजूद रहे स्वयंसेवक

 

सुकांति साहू, सरायकेला खरसावां

महाशिवरात्रि के दिन जब देश के अलग-अलग हिस्से में श्रद्धालुओं ने भगवान शिव की पूजा-अर्चना की तो वहीं झारखंड के सरायकेला खरसावां जिला के रामगढ़ गांव में स्थित प्राचीन शिव मंदिर में भी इस पावन अवसर पर भक्तों का तांता लगा रहा। हर साल की तरह इस साल भी भगवान शिव के भक्तों  ने इस पर्व को बड़े ही उत्साह के साथ मनाया। 

 इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सेवा विभाग सरायकेला खरसावां जिला की ओर से मंदिर में श्रद्धालुओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए समुचित व्यवस्था की गई। 

इसके लिये सुबह से ही स्वयंसेवक श्रद्धालुओं की सेवा के लिये मौजूद रहे। मौके पर जिला सेवा प्रमुख प्रभात सिंह स्वांसी, गजेन्द्र चौहान, सनातन जोंको, शंकर पति एवं सेवा विभाग के अन्य सदस्य उपस्थित थे।  श्रद्धालुओं को मंदिर के प्रांगण में चना, गुड़ और पानी का वितरण किया गया।

खरसवां चौक से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित इस प्राचीन मंदिर में हर साल बड़ी संख्या में महाशिवरात्रि के दिन पूजा अर्चना के लिये दूर-दूर से लोग आते हैं। ऐसी मान्यता है कि इस मंदिर में सबकी मनोकामना पूर्ण होती है।   

Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।