राजभाषा हिंदी के प्रचार-प्रसार में निरंतर कार्यान्वयन के लिए आरईसी को प्रथम पुरस्कार

वर्ष 2018-19 के लिए राजभाषा हिंदी के कार्यान्वयन हेतु विद्युत मंत्रालय के नियंत्रणाधीन 11 संस्थानों में आरईसी लिमिटेड, नई दिल्ली कार्यालय को एनटीपीसी राजभाषा शील्ड पुरस्कार योजना के तहत प्रथम पुरस्कार हेतु चयनित किया गया है। यह पुरस्कार विद्युत मंत्रालय की हिंदी सलाहकार समिति की अगली बैठक में समिति के अध्यक्ष  विद्युत, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) द्वारा प्रदान किया जाएगा।


कंपनी द्वारा पिछले कुछ वर्षों में देश-भर में हिंदी से संबंधित कई गतिविधियां आयोजित की गई हैं। इनमें हिंदीतर क्षेत्रों जैसे कि बंगलुरु, कोलकाता, तिरुवनंतपुरम और शिलांग में राजभाषा सम्मेलनों का आयोजन प्रमुख है।


गौरतलब है कि आरईसी लिमिटेड एक नवरत्न एनबीएफसी है जो पूरे भारत में विद्युत क्षेत्र के वित्तपोषण और विकास पर केंद्रित है। इसके द्वारा राज्यों के बिजली बोर्डराज्य सरकारोंकेंद्र/राज्य की बिजली इकाइयोंस्वतंत्र बिजली उत्पादकोंग्रामीण विद्युत सहकारी समितियों और निजी क्षेत्र की इकाइयों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।


Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।