आजादी के बाद राम जन्म भूमि पहुँचने वाले मोदी बने देश के पहले प्रधानमंत्री


ऐतिहासिक नगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के आज भूमि पूजन के साथ ही मंदिर निर्माण शुरू हो गया। इस ऐतिहासिक अवसर पर उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल,मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ,राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपालदास सहित 175 आमंत्रित विशिष्ट व्यक्ति मौजूद रहे।


इस कार्यक्रम को लेकर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गयी। राम की इस नगरी को भव्य रूप से सजाया-संवारा गया, सैकड़ों त्वरण द्वार बनाये गए। सरयु नदी के तटों को खास तौर से सजाया गया।


इसके साथ ही मंदिर निर्माण की आधाशिला को लेकर देशवासियों की प्रतीक्षा आज पूरी हो गयी। ये  आधार शिलाएं नौ प्रस्तर खंडों में है। इनमें नंदा, भद्रा, जया, रिक्ता, पूर्णा, अजिता, अपराजिता, शुक्ला एवं सौभाग्यनी शामिल हैं। पूजन के बाद इन शिलाओं को सुरक्षित रखा गया। नींव के लिए गर्भगृह की गहराई में उत्खनन होने पर रामलला के सिंहासन के ठीक नीचे इन्हें रखवाया जाएगा। गौरतलब है कि आजादी के बाद राम जन्म भूमि पहुँचाने वाले श्री मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं।


 


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

दिल्ली के लिये हरियाणा से पानी की कमी को लेकर आप नेताओं ने किया, दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के घर का घेराव।