कोरोना,बाढ़ एवं वर्षा से परेशान है, कोसी क्षेत्र की जनता

देश में पहले से ही लोग कोरोना की मार झेल रहे हैं, ऊपर से असम और बिहार में बाढ़ अलग तांडव मचा रहा है। असम की तरह ही बिहार में कोसी क्षेत्र की जनता कोरोना,बाढ़ एवं लगातार हो रही बारिश से परेशान है। दिल्ली से आये पत्रकारों के एक दल ने इस इलाके का भ्रमण करते हुए स्थानीय लोगों से बातचीत की। इस बारे में समाजसेवी अमरेंद्र पाठक"हीरा बाबू"ने बताया कि कोसी क्षेत्र की हालत बहुत ही खराब है। यहां लोगों के सामने रोजी रोटी की समस्या उत्पन्न हो गयी है।


इलाके के लोगों के बीच निरंतर सेवा में लगे युवा शक्ति के बिहार प्रदेश अध्यक्ष गौरी शंकर यादव ने राज्य सरकार पर जरुरतमंदों तक सहायता पहुँचाने में विफल रहने का आरोप लगाया।


राजद नेता बालेश्वर यादव,हरिजन नेता कुसुम लाल चौपाल,राम कृष्ण मुखिया "मास्टर जी" एवं स्थानीय निवासी अशोक मिश्र ने बताया कि इस इलाके को कोई देखने वाला नहीं है। इसी तरह बड़ी कुसमौल के ग्रामीणों- रति लाल मुखिया,मुनेश्वर सदाय,गणेशी सदाय, दिगंबर सदाय,अनिल, कुमजीत सदाय,लालू कुमार, शिवाजी मुखिया,संजीत चौपाल,मुंशी चौपाल,दीपक चौपाल,सत्य नारायण मुखिया एवं किसुन चौपाल ने बताया कि इस तेहरी संकट से यहां के लोग परेशान हैं।


उन्होंने कहा कि सरकारी मदद सिर्फ कुछ ही लोगों को मिल पाती है, जबकि बड़े पैमाने पर लोगों के समक्ष भूखमरी की समस्या है। नेता सिर्फ वोट लेने के लिए आते हैं। उन्होंने यह भी बताया कि सबसे बड़ी समस्या हरिजन एवं महादलितों की है, जिन्हें पिछले कई महीने से काम नहीं मिल रहा है। वे बाढ़ के कारण धान रोपाई भी नहीं कर पा रहे हैं, जिससे उन्हें अगहनी फसल की आस भी नहीं रह गयी है।


 


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता