भारतीय महिलाएं जरूरत से ज्यादा त्याग करती हैं – संजीव कपूर


अधिकांश भारतीय महिलाएं जरूरत से ज्यादा त्याग करती हैं, इसलिये वह अपने बारे में बहुत कम सोचती हैं। अपने स्वास्थ्य और खाने-पीने का ख्याल नहीं रखती हैं। महिलाएं अपने बारे में सोचें। start thinking yourself. यह बात खाना-खजाना से मशहूर हुए स्टार शेफ संजीव कपूर ने एक कार्यक्रम में कही। दिल्ली के द्वारका  स्थित मणिपाल हॉस्पीटल में महिला दिवस को लेकर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसका उद्येश्य महिलाओं को उनके स्वास्थ्य को लेकर जागरूक करना था। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए संजीव कपूर ने कहा कि महिलाओं की उनकी जिंदगी में बड़ी भूमिका रही है। मां, पत्नी एवं बेटी के साथ वह सारी महिलाएं जुड़ी हैं, जो किचन में स्वाद एवं स्वास्थ्य के लिये व्यस्त रहती हैं।


गौरतलब है कि खाना-खजाना कार्यक्रम को दुनियां के 120 देशों में देखा जा रहा है। इस बारे में संजीव कपूर कहते हैं कि कई चीजें हैं, जो समाज को तोड़ती हैं, मगर खाना एक-दूसरे को जोड़ता है, इसमें अब तक कोई भेदभाव नहीं है। महिला दिवस पर आयोजित इस कार्यक्रम में संजीव कपूर ने कहा कि महिलाओं में मुख्य रूप से आयरन की कमी देखी जाती है, इसका एक बड़ा कारण यह भी है कि हमने लोहे की कड़ाही में खाना बनाना बंद कर दिया है, जिससे हमें किचन से ही आयरन मिलता था। घर की थाली की जगह फास्ट फूड शरीर में कई सारी कमियां पैदा कर रहा है। जबकि अच्छे स्वास्थ्य के लिये घर की थाली में हरी सब्जी, दाल, रोटी जरूरी है।


ताजे मौसमी फल, नियमित व्यायाम एवं शारीरिक क्रियाकलाप हमें स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके उलट हम सभी रिमोट पर आश्रित हो गये हैं, जो बीमार कर रहा है। संजीव कपूर ने कहा कि त्याग करना अच्छा है, मगर भारतीय महिलाएं जरूरत से ज्यादा त्याग करती हैं, जिसकी वजह से अपने स्वास्थ्य को नजरअंदाज कर देती हैं। ऐसा करने से वह कई शारिरिक कमियों की शिकार भी होती हैं, इसलिये महिलाएं अपने बारे में सोचें, क्योंकि अगर घर की महिला स्वस्थ है तो उसका परिवार भी स्वस्थ होगा।



उल्लेखनीय है कि हर साल 8 मार्च को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। इस दिन कई जगह महिलाओं को लेकर कई आयोजन किये जाते हैं। इस वर्ष की थीम है, Each for equal यानि सबके लिये बराबर।  महिलाओं को स्वस्थ जीवन के बारे में जागरूक करने के प्रयास में, मणिपाल हॉस्पिटल्स, द्वारका ने 'द वेल वुमन पैकेज' लॉन्च किया। सेलिब्रिटी शेफ संजीव कपूर ने पैकेज का अनावरण किया और हर दिन टेबल पर सेहतमंद सलाद के त्वरित रेसिपी का प्रदर्शन करते हुए एक स्वस्थ आहार के लिए टिप्स भी दिए।


सेलिब्रिटी शेफ संजीव कपूर ने महिलाओं द्वारा सेहत की उपेक्षा और स्वास्थ्य सेवा की पर्याप्त पहुंच में कमी पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा, “यह हम सभी को याद रखना चाहिए कि एक महिला कई भूमिका निभाती है लेकिन साथ ही वह अपनी सेहत की उपेक्षा भी करती है। इलाज तक समय पर पहुंच का अभाव या उपचार में देरी से उनकी समस्याएं बढ़ जाती है। इसलिए बिना किसी पूर्वाग्रह के महिलाओं का स्वास्थ्य सेवा तक पहुंचना बहुत महत्वपूर्ण मुद्दा है और हमें तत्काल इसे दूर करने की आवश्यकता है।” 


इस खास मौके पर प्रसूति और स्त्री रोग सलाहकार एवं एचओडी डॉ. लीना श्रीधर ने कहा, व्यक्तिगत स्वास्थ्य अधिकांश महिलाओं के लिए कम महत्व रखता है, जो कि उनके काम, घर, और उनके जीवन में मौजूद सभी लोगों की देखभाल के व्यस्त कार्यक्रम की वजह से होता है। इस महिला दिवस को हमें सकारात्मक बदलाव लाने चाहिए और स्वास्थ्य को प्राथमिकता देने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करना चाहिए।


 


 


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।