ईंधन संरक्षण व पेट्रोलियम पदार्थों की बचत के लिये ‘सक्षम’ जैसे कैंपेन की जरूरत - डॉ. एम.एम कुट्टी  


पेट्रोलियम संरक्षण अनुसंधान संघ (पी.सी.आर.ए), पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय, भारत सरकार के तत्वावधान में, प्रति वर्ष एक महीने तक चलने वाले ‘सक्षम’ (संरक्षण क्षमता महोत्सव) के इंधन संरक्षण मेगा अभियान  के वार्षिक समारोह का उद्घाटन  डॉ. एम.एम कुट्टी, सचिव, एमओपीएनजी एवं अध्यक्ष पीसीआरए के कर कमलों द्वारा १६ जनवरी २०२०  को दिल्ली में एक समारोह में किया गया I


डॉ. एम.एम कुट्टी द्वारा पीसीआरए की पब्लिसिटी वैन को झंडी दिखा कर विभिन्न राज्यों  में ,खासकर सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में ईंधन संरक्षण का सन्देश विभिन्न रोचक श्रव्य दृश्य के माध्यम से पहुँचाने के लिए रवाना किया गया।


इस अवसर पर डॉ. एम.एम कुट्टी ने अपने संबोधन के दौरान ईंधन संरक्षण व पेट्रोलियम पदार्थों की बचत के महत्व पर जोर दिया और ‘सक्षम’ जैसे कैंपेन को समय की आवश्यकता बताया।


 समारोह में राष्ट्रीय निबंध, क्विज और पेटिंग प्रतियोगिता-२०१९ के  विजेताओं को पुरस्कृत किया गया जिसमे देश के सभी शिक्षा बोर्डों से  रिकॉर्ड तोड़ १.४८ करोड़ से ज्यादा बच्चों ने भाग लिया I पुरुस्कारों में जापान अध्ययन दौरा, लैपटॉप,टैबलेट और नकद पुरस्कार शामिल हैं, व पुरुस्कृत होने से इन बच्चों को ईंधन संरक्षण के प्रयासों को जारी रखने और अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा I ईंधन संरक्षण के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिए तेल कंपनियों और उनके राज्य स्तरीय संयोजकों को भी इस अवसर पर पुरुस्कृत किया गया।


गौरतलब है कि पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्रालय के मार्गदर्शन में महीने भर चलने वाले इस ‘सक्षम’ अभियान के अंतर्गत विभिन्न मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे कि ऑल इंडिया रेडियो, दूरदर्शन, टी.वी चैनल, निजी एफ.एम.चैनल, डिजिटल सिनेमा थियेटर इत्यादि के द्वारा ईंधन संरक्षण का विभिन्न शहरों मे राष्ट्रव्यापी अभियान चलाया जाएगा।


पीसीआरए, पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में विभिन्न लोक केन्द्रित गतिविधियों जैसे कि ड्राइवर/गाड़ियों के बेड़े के संचालक/ईधन कुशल ड्राइविंग  प्रतियोगिता, कुक/विद्यालय/कॉलेजों की महिलाओं के साथ ईंधन बचत पर सामूहिक चर्चा और पी.एन.जी/एल.पी.जी बायोमॉस के लाभ, स्कूलों  /कॉलेजों/विश्वविद्यालयों के लिए शैक्षिक कार्यक्रम, किसानों के लिए जागरुकता कार्यक्रम, साइक्लोथोन, संगीत कार्यक्रम, प्रदर्शनी इत्यादि गतिविधियों को करने का प्लान है।


पीसीआरए , सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी ‘सक्षम’ अभियान व्यापक तौर से चलाएगा जिसमें फेसबुक, ट्विटर, ‘मेरी सरकार’ (MyGov), प्लेटफार्म शामिल हैं । ‘सक्षम’, पीसीआरए एवं तेल कम्पनियों द्वारा, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालयत के मार्गदर्शन में चलाये जाने वाली पहल है जो कि लोगों को ईंधन संरक्षण के प्रति जागरूक करने में सहायक होगीI


 


 


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।