यूनेस्को के क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क के सदस्य के रूप में मुम्बई और हैदराबाद को यूनेस्को ने किया नामित

 फिल्म के क्षेत्र में मुम्बई और पाक-कला के क्षेत्र में हैदराबाद को यूनेस्को ने यूनेस्को के क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क (यूसीसीएन) के सदस्य के रूप में नामित किया। यूसीसीएन का गठन 2004 में हुआ था और इसमें उन शहरों के नाम शामिल हैं जो अपने-अपने देशों में संस्कृतिक गतिविधियों के सक्रिय केन्द्र हैं। यूनेस्को क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क में अब कुल 246 शहर शामिल हैं।


इस नेटवर्क का हिस्सा बनने वाले सदस्य शहर सभी महाद्वीपों और क्षेत्रों से अलग-अलग आय स्तर और आबादी के साथ आते हैं। वे एक समान मिशन की दिशा में एक साथ काम करते हैं, जैसे- सतत विकास के लिए संयुक्त राष्ट्र 2030 एजेंडे के अनुसार, शहरों को सुरक्षित, लचीला, समावेशी और टिकाऊ बनाने के लिए उनकी शहरी विकास योजनाओं के मूल में रचनात्मकता और रचनात्मक अर्थव्यवस्था को रखना है।


यूसीसीएन के अतंर्गत 7 श्रेणियां को शामिल किया गया हैं, जिनमें शिल्प और लोक कला, डिजाइन, फिल्म,पाक-कला,संगीत, मीडिया आर्ट्स एवं साहित्य शामिल हैं। गौरतलब है कि मुंबई और हैदराबाद से पहले तीन तीन भारतीय शहरों को यूसीसीएन के सदस्यों के रूप में मान्यता मिली हुई हैं। शिल्प और लोक कला (2015)जयपुर, संगीत के लिए रचनात्मक शहर (2015)वाराणसी और संगीत के लिये रचनात्मक शहर (2017) चेन्नई है।


 


Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।