आईआरसीटीसी के अधिकृत एजेंट के माध्यम से बुक टिकट कैंसिल करने पर मिलेगा ओटीपी आधारित रिफंड


भारतीय रेल ने अपने उन यात्रियों को सुविधा देने का फैसला किया है जो आईआरसीटीसी के अधिकृत एजेंट से टिकट कटाते हैं, और कैंसिल कराने पर उन्हें रिफंड की राशि के लिये जद्दोजहद करनी पड़ती है।  टिकट कैंसिलेशन प्रक्रिया को सुगम और सुसंगत बनाने के उद्येश्य से आईआरसीटीसी द्वारा नई प्रणाली लागू की जाएगी, ताकि एजेंट द्वारा कैंसिलेशन धनराशि ग्राहक को समय पर मिल सके।


इसका लक्ष्य उन आरक्षित ई-टिकटों के लिए एक पारदर्शी और ग्राहकों के अनुकूल प्रणाली तैयार करना है, जो रद्द किए गए हों अथवा फुली वेटलिस्टेड ड्रॉप्ड टिकट हों। भारतीय रेल के सार्वजनिक उपक्रम - भारतीय रेल खानपान एवं पर्यटन निगम लिमिटेड (आईआरसीटीसी) द्वारा यह नई प्रणाली लागू की जाएगी।


यात्री के पंजीकृत मोबाइल नम्बर (बुकिंग के समय ग्राहक/यात्री द्वारा एजेंट को दिया गया नम्बर) पर एसएमएस के रूप में ओटीपी भेजा जाएगा। रिफंड की राशि पाने हेतु, ग्राहक/यात्री के लिए टिकट बुक करने वाले एजेंट के साथ ओटीपी साझा करना होगा, जिससे एजेंट द्वारा रद्द की गई धनराशि ग्राहक को समय पर मिल सकेगी।


इसके लिये ग्राहकों को कुछ बातों पर ध्यान देना होगा, जैसे- यह ध्यान रखना कि ग्राहकों के लिए आरक्षित रेल ई-टिकटों की बुकिंग करने की अनुमति केवल आईआरसीटीसी के अधिकृत एजेंटों को ही है।


इसलिये आईआरसीटीसी के अधिकृत एजेंटों के माध्यम से टिकट बुक करायें जिससे रद्द टिकटों अथवा फुली वेटलिस्टेड ड्रॉप्ड टिकटों के लिए ओटीपी आधारित रिफंड की प्रक्रिया लागू की जा सकेगी। ई-टिकट बुक करते समय आईआरसीटीसी के अधिकृत एजेंट को अपना सही मोबाइल नंबर दें और यह सुनिश्चित करें कि बुकिंग के समय एजेंट मोबाइल नम्बर सही-सही दर्ज करे।


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता