15 अगस्त में खास है राखी संयोग


स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन दोनों प्रेम का प्रतीक है। जहां स्वतंत्रता दिवस देश प्रेम की भावना जागृत करता है वहीं रक्षाबंधन प्रेम की डोरी से दिलों का बांधता है। इस वर्ष 2019 में प्रेम से परिपूर्ण यह दोनों पर्व संजोगवश एक साथ है।   रक्षाबंधन राखी का त्यौहार है और 15 अगस्त 1947 भारत की आजादी की घोषणा हुई थी। इन दोनों के संजोग के बीच  यह दिन एक खास शख्सियत की भी याद दिलाता है।


दरअसल, 15 अगस्त 1947 को भारत की आजादी की घोषणा के कुछ ही घंटों बाद पश्चिम बंगाल के नादिया जिले के राणाघाट में एक बंगाली परिवार में राखी का जन्म हुआ था। राखी  हिंदी फिल्मों की जानी-मानी अभिनेत्री हैं। 1967 में राखी ने बांग्ला फिल्म बधु बारन से अपने फिल्मी सफर शुरू की और 1970 में फिल्म जीवन मृत्यु से हिंदी फिल्म में कदम रखा।


राखी ने चार दशकों के अभिनय के सफर में हिंदी फिल्मों के साथ कई बंगला फिल्मों में अपनी सफल अभिनय की अमिट छाप छोड़ी हैं। इन्होंने तीन फिल्म फेयर पुरस्कार और एक राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता है।


     राखी विख्यात फिल्म निर्देशक, कवि एवं गीतकार गुलजार की पत्नी हैं।


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।