दो देशों की मिट्टी की खुशबू बिखेरती है कविता ‘यह भी मेरे देश की मिट्टी

भारत में पढ़ाई करते हुए फिजी की युवा लेखिका सुएता दत्त चौधरी ने अपनी कविता पुस्तक प्रकाशित की है, जिसका विमोचन भारत में फ़िजी के राजदूत योगेश पूंजा ने किया। सुएता दत्त चौधरी के इस पुस्तक को निकष प्रकाशन द्वारा प्रकाशित किया गया है। राजधानी दिल्ली में अपनी ‘यह भी मेरे देश की मिट्टी वह भी मेरे देश की मिट्टी’ कविता पुस्तक विमोचन समारोह में उन्होंने अपने पूर्वजों की मातृ भूमि के साथ काव्यात्मक संबंध का वर्णन किया।



इस मौके पर फिजी के भारत में राष्ट्रदूत योगेश पूंजा, बीजेपी नेता विजय जौली,  मारवा स्यूडियो के संदीप मारवा एवं पत्रकार रत्नज्योति दत्ता शामिल हुए। इस अवसर पर फ़िजी में नामित भारतीय उच्चायुक्त पद्मजा ने युवा लेखिका को प्रोत्साहित किया।


दरअसल, युवा कवयित्री सुएता दत्त चौधरी बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में हिंदी साहित्य में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रही हैं। सुएता भारत-फिजी मित्रता फोरम की सदस्य एवं हिंदीलेखक संघ फिजी की सचिव भी है।


 भारत और फ़िजी गणराज्य ऐतिहासिक और सांस्कृतिक संबंधों से जुड़े हुए हैं। फ़िजी में बसे भारतीय मूल के लोगों की उपस्थिति से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों में बहुत योगदान मिला है।


 


Popular posts from this blog

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिला में नये डीसी ने पद संभालते हुए कहा-जिले के सभी लोगों को सशक्त करना मेरी प्राथमिकता