अल क्लासिको रहा 1-1 से ड्रॉ


बार्सिलोना और रियल मेड्रिड  के बीच कोपा डेल रे सेमीफाइनल का बहुप्रतीक्षित पहला चरण बुधवार रात कैंप नोउ में हुआ, और हमने हाल के इतिहास में सबसे खराब अल क्लासिको खेलों में से एक देखा। फॉल्स और बैड पास से भरे 90 मिनट के फुटबॉल का एक बहुत उबाऊ अंत 1-1 की बराबरी के साथ हुआ। 



पहले हाफ में बार्सिलोना की शुरुआत बहुत ख़राब रही। टीम ने आसानी से गेंद को खो दिया, और रियल मैड्रिड को रक्षापंक्ति में रिक्त स्थान खोजने में कोई समस्या नहीं हुई। छठे मिनट में ही रियल को अपना पहला गोल मिल गया। विनीसियस जूनियर ने बॉक्स में एक क्रॉस खेला, करीम बेंजेमा ने गेंद को नीचे लाया और लुकास वाज़क्वेज़ ने बार्सिलोना के गोलकीपर मार्क आंद्रे टर श्टेगन को चकमा देकर रियल मेड्रिड को खेल में 1-0 की बढ़त दिला दी। रियल को यह गोल बड़ी ही आसानी से मिल गया और यदि बार्सिलोना को खेल में वापस आना था तो उन्हें अपने डिफेन्स पर ध्यान देने की ज़रुरत थी। बाकी के आधे हाफ में भी रियल का खेल ज़्यादा अच्छा लग रहा था। विनिसियस जूनियर और करीम बेंजेमा काउंटर पर कहर बरपा रहे थे। 



बार्सिलोना ने दूसरे हाफ में बेहतर शुरुआत की। माल्कोम और जोर्डी अल्बा फ़्लैंक पर वास्तविक समस्या पैदा कर रहे थे। इसी वजह से बार्सिलोना को अपना पहला गोल मिला। अल्बा ने पीछे एक रन बनाया जिससे रियल के गोलकीपर केलर नवास को अपने गोल से बाहर आना पड़ा और जब सुआरेज़ ने एक शूट लिया तो बॉल सीधा पोस्ट पर जाकर लगी और दिशा बदलकर माल्कोम के पास गयी जिन्होंने एक ज़बरदस्त शॉट लेकर बार्सिलोना को बराबरी दिलाई। 63वें मिनट में मेसी ग्राउंड पर आये पर वह भी कुछ ख़ास नहीं कर पाए। वह पूरी तरह फिट थे या नहीं यह अभी तक नहीं पता चला है। लेकिन आज का मैच देख कर लगता है कि अगले लेग में दोनों टीमों के बीच काँटे की टक्कर होगी। 


 दूसरा लेग मेड्रिड के सेंटिआगो बरनबेऊ स्टेडियम में 27 फरवरी 2019 को खेला जाएगा।                


Popular posts from this blog

झारखंड हमेशा से वीरों और शहीदों की भूमि रही है- हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री झारखंड

समय की मांग है कि जड़ से जुड़कर रहा जाय- भुमिहार महिला समाज।

जन वितरण के सामान को बाजार में बेचे जाने के विरोध में ग्रामीणों ने की राशन डीलर की शिकायत।